छत्तीसगढ

सदन में गूंजा अरपा भैंसाझार योजना का मुद्दा, कांग्रेस विधायक ने फिजिकल ऑडिट करवाने की मांग की, मंत्री ने दिया ये जबाव

रायपुर। विधानसभा में आज अरपा भैंसाझार योजना का मुद्दा गुंजा। कांग्रेस विधायक राघवेंद्र सिंह ने अरपा भैंसाझार योजना की लागत का मामला उठाते हुए पूछा, अरपा भैंसाझर योजना की कुल लागत और कितनी बार बढ़ोतरी हुई कितना राशि का भुगतान किया गया है? क्या इसका फिजिकल ऑडिट करवाया जाएगा?

जल संसाधन मंत्री केदार कश्यप ने बताया इस योजना की वर्तमान लागत 1141.90 करोड़ है। इसमें एक बार बढ़ोतरी हुई है। निर्माणकर्ता फर्म द्वारा निर्धारित शर्तों का पालन किया गया है। आज की स्थिति में कुल 317.59 करोड़ का भुगतान किया गया है। योजना की पूर्णता अवधि में 8 बार समय में बढ़ोतरी की गई है।

धरमलाल कौशिक ने कहा जिन अधिकारियों की अनदेखी के कारण नहर पुल निर्माण में गड़बड़ी हुई और पैसों का गलत भुगतान किया गया है उन पर कार्यवाही कब तक होगी?

धर्मजीत सिंह ने कहा 8 बार इसकी अवधि में वृद्धि की गई है लेकिन यह सवाल मै नहीं पूछूंगा। क्या अधिकारियों के साथ हमें 25 हजार हेक्टेयर में सिंचाई का आश्वासन देंगे क्या?? केवल अब तक 5 सालों से साढ़े 12 हजार हेक्टेयर में सिंचाई हो रही है।

मंत्री केदार कश्यप ने कहा, जब काम पूरा हो जाएगा तो 25 हजार हेक्टेयर में सिंचाई होगी। इसमें लेंड एकवेजिशन का मामला था।

नेता प्रतिपक्ष डॉ चरणदास महंत ने पूछा, वाहन ठेकेदार कौन है उनका नाम किसी CE का eow ACB की जांच हुआ ही क्या?

मंत्री ने कहा, फार्मा का नाम मेसर्स राधेश्याम अग्रवाल और सुनील अग्रवाल हैंष

राघवेंद्र सिंह ने कहा, क्या इसका फिजिकल ऑडिट कराया गया?

मंत्री ने कहा, सर्वे का काम तो किया गया।

विधानसभा अध्यक्ष डॉ. रमन सिंह ने कहा, 2 घंटे अधिकारियों और विधायकों के साथ मंत्री बैठकर सभी समस्या दूर करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

You cannot copy content of this page