देश

ISRAIL-IRAN WAR : इजरायल ने ईरान से लिया बदला, हथियारों के जखीरे पर दागे मिसाइल, फ्लाइट रद्द

तेहरान। इजरायल और ईरान के बीच संघर्ष चल रहा है। रविवार के शुरुआती घंटों में इजरायल पर ईरान ने हमला किया था। अब इजरायल ने ईरान से बदला लेना शुरू कर दिया है। इजरायल ने ईरान पर मिसाइल दागे हैं। न्यूज रिपोर्ट के मुताबिक इजरायली मिसाइलों ने ईरान में टार्गेट्स को हिट किया है। बताया यह भी जा रहा है कि सीरिया और इराक में भी हमला किया गया। हालांकि इसकी पुष्टि अमेरिकी अधिकारियों ने नहीं की है। लेकिन कई रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि सीरिया के अस-सुवेदा गवर्नरेट और इराक के बगदाद क्षेत्र और बाबिल गवर्नरेट में जोरदार धमाकों की आवाज सुनी गई है।

हमले के बाद ईरान ने अपना एयरस्पेस बंद कर दिया है। ईरानी सोशल मीडिया पर आए फुटेज में दिख रहा है कि इमाम खुमैनी इंटरनेशनल हवाी अड्डे पर घोषणआ की जा रही है, जिसमें यात्रियों को बताया जा रहा है कि सभी उड़ानें रद्द कर दी गई हैं। यात्रियों को हवाई अड्डा छोड़ने को कहा गया है। इसके अलावा तेहरान आने वाले विमानों को भी डायवर्ट कर दिया गया है। सरकारी IRNA न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक इस्फहान शहर के पास विस्फोट के बाद ईरान की वायु रक्षा बैटरियां एक्टिव हो गईं।

सुनी गईं जोरदार धमाके की आवाज –

अभी भी यह साफ नहीं हो सका है कि इजरायल लगातार हमला कर रहा है या नहीं। हालांकि इजरायल पर ईरान के हमले के बाद से ही पूरे मध्य पूर्व में तनाव चरम पर है। IRNA का कहना है कि सुरक्षा बलों ने कई प्रांतों में एयर डिफेंस फायर किया। हालांकि यह नहीं बताया कि ऐसा किस कारण से करना पड़ा है। पूरे क्षेत्र के लोगों ने धमाके की आवाजें सुनी हैं। बताया जा रहा है कि इजरायल ने ईरान के सैन्य अड्डों को निशाना बनाया है, जहां उसके ड्रोन और मिसाइलों का जखीरा है। ईरान की अर्ध-आधिकारिक FARS समाचार की रिपोर्ट में कहा गया किइस्फहान शहर के उत्तर-पश्चिमी हिस्से में सैन्य अड्डे के पास जहां लड़ाकू जेट स्थित हैं, तीन विस्फोट सुने गए।

UN में भारत को मिले स्थायी सीट ईरान-इजरायल युद्ध के बीच एलन मस्क की मांग से दुनिया में टेंशन –

खामेनेई को जन्मदिन का तोहफा!ऐसा लग रहा है कि इजरायल ने ईरान पर इस हमले की तारीख बेहद सोच समझकर चुनी है। दरअसल 19 अप्रैल को ईरान के सुप्रीम लीडर अली खामेनेई का 85वां जन्मदिन है। खामेनेई 1989 से ईरान के सर्वोच्च नेता बने हुए हैं। मध्य पूर्व में वह सबसे लंबे समय तक शासन करने वाले शासक हैं। हमलों के दौरान सुने गए धमाकों को लेकर कहा जा रहा है कि इजरायली मिसाइलों को ईरान ने हवा में ही तबाह कर दिया, जिस कारण यह धमाका सुना गया। एक भी मिसाइल जमीन पर नहीं गिरी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

You cannot copy content of this page